You are here: Homeराज्यउत्तर प्रदेशराम जन्मभूमि अयोध्या का कोरिया से है खास संबंध

राम जन्मभूमि अयोध्या का कोरिया से है खास संबंध

Written by  Published in Uttar Pradesh Sunday, 21 May 2017 07:42

लखनऊ।अयोध्या भगवान राम की जन्म स्थली है. जो राम की वजह से शायद इतनी चर्चा में नहीं रहती जितनी की राम मंदिर की वजह से. अयोध्या का नाम राजनीतिक कारणों से चर्चा में ज्यादा रहता है. कई राजनीतिक पार्टियां राम मंदिर मुद्दे पर कई बार अपनी रोटियां सेकती हैं.
आज हम आपको अयोध्या के बारे में कुछ ऐसी बाते बतायेंगे जो शायद आप न जानते हो. अक्सर अयोध्या में बहुत से विदेशी पर्यटक आते है. क्या आप जानते हैं, अयोध्या का सम्बन्ध किस और देश से है. इसका कनेक्शन कोरिया से है. यह जानने के बाद आप सोच रहे होंगे, भला अयोध्या का कनेक्शन कोरिया से कैसे हो सकता है? यह सम्बन्ध कोई आज का नहीं बल्कि 2000 साल पहले का है.

आप सभी जानते हैं कि भगवान राम को 14 साल का वनवास हुआ था. क्या आप जानते हैं, अयोध्या की ऐसी राजकुमारी है, जो यहां से कोरिया तक पहुंच गयी. मतलब जिसका जीवन शुरू तो भारत में हुआ लेकिन मृत्यु कोरिया में हुई. आज भी कोरिया से हर साल लाखों लोग उन्हें श्रद्धांजलि देने यहां आते हैं. हम बात कर क्वीन हेओ-ह्वांग-ओके की. रानी हेओ के मृत्यु 157 साल की उम्र में हो गयी थी.

दरअसल राजकुमारी एक पत्थर लेकर अयोध्या से कोरिया की यात्रा पर गयी थी. दरअसल उस समय लोग अपने नाव को संतुलन में रखने के लिए पत्थर अपने साथ ले जातें थे. महापुरुषों के मुताबिक़ वो इस पत्थर के सहारे सुरक्षित कोरिया पहुंच गयी. कोरिया पहुंचने पर उन्होंने ग्युंवां के राजा सुरो से शादी कर ली. शादी के वक़्त किंग सुरो की उम्र महज 16 साल की थी. इसी कारण कोरिया के 70 लाख लोग से भी ज्यादा लोग राम जन्म-भूमि को अपनी मातृभूमि मानते हैं.

कोरिया के ज़्यदातर लोग मानते हैं कि रानी हेओ ने ही, कोरिया में राजघरानो की स्थापना की. कोरिया में आज भी जुड़वा मछली का पत्थर है, जिसे राजकुमारी अपने साथ ले के आयी थी. यह पत्थर अयोध्या का प्रतीक चिन्ह है. रानी हेओ के वंशज आज भी न केवल कोरिया में बल्कि पूरी दुनिया में भी उच्च पदों पर आसीन है. इस वंश को कारक वंश कहते है.कोरिया के लोग मानते हैं कि भारत से सिर्फ उनके व्यापारिक सम्बन्ध ही नहीं, बल्कि जीन का सम्बन्ध है.

Read 1456 times

फोटो गैलरी

Market Data

एडिटर ओपेनियन

एयर इंडिया निजीकरण की कोई मंशा नहीं!

एयर इंडिया निजी...

नई दिल्ली।। एयर इंडिया के विनिवेश के बार...

एसबीआई ने कमाया 12.35% का शुद्ध लाभ

एसबीआई ने कमाया...

मुंबई॥ देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टे...

इंफोसिस को जबरदस्त मुनाफा, शेयर में तेजी!

इंफोसिस को जबरद...

मुंबई।। इंफोसिस लिमिटेड ने इस वित्त वर्ष...

नैनो का CNG मॉडल लॉन्च, कीमत 2.52 लाख

नैनो का CNG मॉड...

मुंबई।। टाटा ने नैनो का सीएनजी मॉडल लॉन्...

Video of the Day

Contact Us

About Us

Anurag Lakshya is one of the renowned media group in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers.