You are here: Homeअपना शहरअपराधलक्ष्मणपुर बाथे नरसंहार की हो सीबीआई जांच: साधू

लक्ष्मणपुर बाथे नरसंहार की हो सीबीआई जांच: साधू

Written by  Published in Crime Wednesday, 18 July 2012 11:48

पटना।। लक्ष्मणपुर बाथे नरसंहार की सीबीआई जांच कराने की मांग को लेकर लोजपा (दलित सेना) ने विरोध मार्च निकाला।

 

मंगलवार को जेपी गोलंबर से निकले दलित सेना के सैकड़ों कार्यकर्ता नारेबाजी करते हुए आर ब्लौक चौरहा पहुंचे।

 

यहां पर जनसभा को संबोधित करते हुए दलित सेना के प्रदेश अध्यक्ष अनिल कुमार साधु ने कहा कि नीतीश सरकार की गलतियों की वजह से लक्ष्मणपुर बाथे के सामूहिक नरसंहार पीड़ितों के दोषियों को सजा नहीं मिली।

 

सबूतों के अभाव में व्यवहार न्यायालय से फांसी एवं आजीवन कारावास की सजा पाए सभी अभियुक्त पटना उच्च न्यायालय से बरी हो गए है। उन्होंने नरसंहार की जांच सीबीआई से कराने की मांग की।

 

लोजपा प्रवक्ता रोहित कुमार ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को जनता के समक्ष बताना होगा कि एक फरवरी 1997 की रात लक्ष्मणपुर बाथे गांव में 58 दलितों की हत्या किसने की? उन्होंने कहा कि दोषी किसी भी वर्ग का हो, उन्हें सजा मिलनी चाहिए।

 

लोकसभा चुनाव को ध्यान में रखकर नीतीश सरकार ने दलितों का पक्ष सहीं ढंग से उच्च न्यायालय में नहीं रखा है।

 

रोहित ने कहा कि दलितों को महादलित की उपाधी देकर ढ़गने वाले मुख्यमंत्री नीतीश सरकार को दलित कभी मांफ नहीं करेंगे।

 

इस मौके पर लोजपा के राष्ट्रीय महासचिव सत्यानंद शर्मा सहित लोजपा एवं दलित सेना के सैकड़ों कार्यकर्ता मौजूद थे।

Read 3666 times Last modified on Friday, 18 October 2013 13:12

फोटो गैलरी

Market Data

एडिटर ओपेनियन

एयर इंडिया निजीकरण की कोई मंशा नहीं!

एयर इंडिया निजी...

नई दिल्ली।। एयर इंडिया के विनिवेश के बार...

एसबीआई ने कमाया 12.35% का शुद्ध लाभ

एसबीआई ने कमाया...

मुंबई॥ देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टे...

इंफोसिस को जबरदस्त मुनाफा, शेयर में तेजी!

इंफोसिस को जबरद...

मुंबई।। इंफोसिस लिमिटेड ने इस वित्त वर्ष...

नैनो का CNG मॉडल लॉन्च, कीमत 2.52 लाख

नैनो का CNG मॉड...

मुंबई।। टाटा ने नैनो का सीएनजी मॉडल लॉन्...

Video of the Day

Contact Us

About Us

Anurag Lakshya is one of the renowned media group in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers.