You are here: Home

योगी आदित्यनाथ को देश का संविधान पढऩा चाहिए -मायावती Featured

Written by  Published in Political Friday, 20 July 2012 10:09

 

 

 

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हिंदू राष्ट्र वाले बयान पर सियासत गर्मा गई है। बसपा सुप्रीमो मायावती ने योगी के इस बयान पर हमला बोलते हुए इसे असंवैधानिक बताया है तो सीपीआई नेता डी. राजा ने इसे खतरनाक तक करार दिया है। वहीं बीजेपी ने इस मामले पर सियासत को बेवजह करार दिया है। 

सीएम बनने के बाद डीडी न्यूज को दिए अपने पहले टीवी इंटरव्यू में योगी आदित्यनाथ ने कहा था कि हिंदू राष्ट्र की अवधारणा सही है। इस इंटरव्यू में योगी ने हिंदुत्व को लेकर अपनी सरकार के पक्ष को बड़े बेबाक तरीके से रखा। योगी आदित्यनाथ ने कहा कि बूचडख़ानों पर सुप्रीम कोर्ट और एनजीटी के फैसलों को लागू किया जाएगा। 
हिंदू राष्ट्र की अवधारणा पर योगी के बयान को मायावती ने असंवैधानिक बताया और देश की सेकुलर छवि के लिए गहरा धक्का बताया। मायावती ने कहा कि योगी आदित्यनाथ को देश का संविधान पढऩा चाहिए। संविधान की बुनियाद धर्मनिरपेक्षता है। अगर वो हिन्दू राष्ट्र बनाएंगे तो सिख, पारसी और मुसलमान कहां जाएंगे। मायावती ने कहा कि योगी आदित्यनाथ आरएसएस का एजेंडा लागू कर रहे हैं उत्तर प्रदेश में। वहीं सीपीआई के डी. राजा ने इसे खतरनाक बताया और कहा कि आने वाले वक्त में इसके नुकसान भी दिखने लगेंगे।

 

 

 

Read 8395 times Last modified on Thursday, 06 April 2017 16:54

फोटो गैलरी

Contact Us

About Us

Anurag Lakshya is one of the renowned media group in print and web media. It has earned appreciation from various eminent media personalities and readers.